मंगलवार

चैनल के भीतर की असलियत

भड़ास मीडिया ने फिल्म निर्माता और मौर्या टीवी के मालिक प्रकाश झा से बात की और उसे अपने ब्लॉग पर प्रकाशित किया है ! इस रिपोर्ट में प्रकाश झा न मौर्या टीवी के भीतर हो रही घटनाओं पर टिपण्णी की है और कहा की पहले इस चैनल में कुछ रोडब्लोकर थे ! यहाँ आप भड़ास में छपे लेख का पहले अंश पढ़िये फिर प्रकाश झा को चैनल के भीतर की असलियत से परिचय करने की कोशिश करूँगा !

संपादक

खुलासा


-मौर्य टीवी में अंदरखाने काफी कुछ उथल-पुथल हुआ. कई लोग आए और गए. यह क्यों हुआ?

--कुछ रोडब्लाक्स थे. उनको एक बार जिम्मेदारी दी गई. पर सब कुछ ठीक से स्पष्ट नहीं हो रहा था. तब बैठ करके और बातचीत करके हमने व्यवस्था बनाई. व्यवस्था बदली गई. अभी आप देख रहे होंगे कि पिछले एक-दो महीने से सब कुछ बिल्कुल ठीक चल रहा है. सुचारू रूप से चैनल लांच हो रहा है. अब कोई दिक्कत की बात नहीं है. मीडिया में तो ऐसा होता ही रहता है. कोशिश यही रही है कि सब ठीकठाक से चले. सभी अपनी जिम्मेदारी सही तरीके से संभाल सकें. हमने तो पिछले दो साल से चैनल के लिए हर वो काम किया, जो एक व्यवस्थित चैनल के लिए जरूरी होता है. तभी बिहार का कांपैक्ट सैटेलाइट चैनल विथ प्रोडक्शन हाउस लांच हो पाया है.

खुलासा का जवाब


आपका उत्तर प्रकाश जी सही नही है ! आप ने कहा की अब जो लोग आपके पास हैं वे सही हैं ... हो सकते हैं ! पर आपने इन्हें भी सही नहीं रहने दिया ! क्या हो रहा है आपके चैनल में .... आज आपको बता दूं की अकरम अली को पीसीआर की जिम्मेवारी से मुकेश न मुक्त कर दिया अब अकरम के पास कोई काम नहीं है ! सिर्फ कैमरा देखना उसका काम रह गया है ! आपको मालूम होना चाहिए की अकरम पटना ही नहीं बल्कि बिहार का सबसे बेहतरीन टेक्नीकल का जानकार है ! वह पीसीआर तो दूर आपके चैनल का क्वालिटी सुधार सकता है ! पर इसके लिए आपको अकरम को पूरी जिम्मेदारी देनी होगी ! वह दूर की सोचता है उसके सामने मुकेश कुमार जिंदगी भर पानी मांगते नज़र आयेगे ! आपने पीसीआर में थ्री कैम लगा लिया पर क्या हुआ अकरम के हटते ही सिंक बैठ गया !

अब दूसरी खबर भी देख लीजिये ! संतोष से कैंटीन का काम वापस लेकर कैमरा मैन नीरज को जिम्मेवारी दी गयी है ! अब कैमरा मैन चाय और नास्ता बेचेगा या शूट पर जाएगा ! इतना ही नही अभी आपके चैनल से प्रवीण और किशोर ने बिदाई ले ली आप रोक लीजिये ! अनामिका ने मानशिक प्रताड़ना का मामला दायर किया है ! कोर्ट से सलट लीजिये और तब कहिये की मौर्या के अन्दर खाने में सब दुरुस्त है ! किसी तरह अपने को बेदाग़ करने के लिए उलुल जुलूल बाते छपवाने से कुछ नहीं होगा ! कभी अपने चैनल को पटना से चलने वाला केबुल पीटीएन और बिहारन्यूज़ से तुलना कर के तो देखिये और उसके बाद भाषण छपवाइए !

हाँ एक बात और पूरा बिहार जानता है की एमपी बनाने के लिए आप क्या करते रहे हैं और क्या करने वाले हैं !डकैत से लेकर लिच्चर तक को अपने साथ घुमाने की तस्वीर भी है ! आपका पूरा सच लिख दूं तो प्रकाश जी आपकी इमेज का बंटाधार हो जाएगा ! कोशिश कीजिये की सच बोलिए ! आपके सच पर ट्रस्ट सारे करते है जो हैं और जो मौर्या से गुजर गए .. सब !

हाँ आज आपकी वजह से आज राकेश शर्मा दिल्ली शिफ्ट कर रहा है ! उसकी गलती क्या थी यही ना की आप पर भरोसा कर आया था ! पर चलिए विज्ञापन देकर खबर छपवाने से महँ नहीं हो पायेंगे आप !



जय हो

1 टिप्पणी:

  1. अरे चूतिए की औलाद, तेरी मां कितने हरामियों के पास गई होगी तब तू पैदा हुआ होगा। साले अपनी मां-बहन का पता रखते नहीं चलते हो रत्तू और अकरम की खबर लेने। साले हरामी की औलाद तेरे बाप ने कभी मीडिया का नाम सुना था जो तू मीडिया की खबरें बताने चला है।

    उत्तर देंहटाएं