गुरुवार

चोर पुलिस


जय हो



यह तो सच है कि पुलिस को देखते ही कितना बड़ा चोर क्यों नहीं हो उसका फट जाता है ! हुआ भी वही पुलिस जैसे ही चैनल के दरवाज़े पहुंची चोरो ने अपना जुर्म कबूल कर लिया ! यह बता दिया है कि भारत का पूर्व नाम को तोड़ मरोर कर नया नाम पर पटना से खुलने वाले एक चैनल को सारा सोफ्टवेयर बेच दिया है ! इस काम में कई शामिल थे पर चैनल वालो ने दो अनुराग मिश्र और रंजन को ही निकाला वैसे एक धीरज तो पहले से ही भाग कर उस चैनल में काम कर रहा है ! अब सवाल है कि बिहार में एक कहावत पहले से ही हीट ही नहीं फिट भी है ... चोर चोरी से जाय हेरा फेरी से ना जाय ! तो बंधू ,हेरा फेरी कर सोफ्टवेयर पाने वाले चैनल की दशा कितने दिनों की है यह तो सभी जानते है ... क्योंकि इस नए चैनल के नबर दो सर की करामात जाननी हो तो यहाँ नौकरी के लिए इंटरवियू देने आयी को जनाव ने ऐसा न्यूज़ पैक दिया की वह भाग खड़ी हुई ! जनाब ने उसे तरक्की पाने से लेकर नौकरी पाने का जुगाड़ बता दिया और .... मांग लिया ! लोंगो को टीवी पर देखने वाली इस नयी नवेली ने पत्रकारों का इस घिनौने चेहरे को देखा तो सन्न रह गयी ! इस पेशे से ही नफरत कर बैठी ... सब कुछ लुटा दिया ... यह नहीं गाना चाहती थी !

आप कभी फेस बुक पर इस चैनल के एक एंकर को तलाश करिए और इस चैनल के भीतर कैसे फोटो शूट होते है ... मॉडलिंग की ट्रेनिंग मिलती है का खुलासा हो जाएगा !

बहरहाल , चैनल चलाने के लिए यह जरुरी है क्या कि आपको ... आपके साथ मैडम हो ... और हमेशा आप गायें ... मिलाने को जी चाहता है


जय हो

3 टिप्‍पणियां:

  1. क्या आपने हिंदी ब्लॉग संकलक हमारीवाणी पर अपना ब्लॉग पंजीकृत किया है?


    अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें.
    हमारीवाणी पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि

    उत्तर देंहटाएं
  2. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  3. भाई साहेब आप सर्वेश जी पर क्यूँ फ़िदा हो गए. पहले जिसपे फ़िदा थे वही आशिकी ठीक थी.

    उत्तर देंहटाएं