सोमवार

खबर है सनसनीखेज

जय हो




इनदिनों भाई जी के चैनल में कुछ और भी चल रहा है . हम आपकी तरह घुमा फिराकर बात नहीं करते सो सीधे कह रहे है की ..मौर्या टीवी में इनदिनों प्यार का मौसम चल रहा है . पहले से तो लग ही रहा था ... अब नया मामला है मैडम जी का . मैडम जी का प्यार इन दिनों अपने बाजू वाले नेशनल चैनल के मुनि नाम वाले एक कैमरा मैन से चल रहा है और आप कभी भी दोपहर में भाई जी के चैनल के ठीक पीछे एक ही बिल्डिंग में चल रहे दो चैनल में से एक चौबीस घंटे में जायेंगे तो सब कुछ साफ़ हो जाएगा
रिपोटर गया तेल लेने पर यह दबंग कैमरा मैन मैडम के साथ कभी खाना खाते तो कभी गप्पे लड़ाते मिल जाएगा
आपको यकीन नहीं है ... आप इसके नंबर की जांच करा ले ... सब सामने आ जाएगा ... खाना तो दूर ... वो भी ... समझ गए ना साथ में
अब मैडम जी कौन हैं ... मै आपको बता देता हूँ ...



वही जो पिछले महीने इंडिया न्यूज़ छोड़कर मौर्या टीवी में आई है ...आते ही गरमा गया है मौर्या का मौसम . आपको बता दे की कि दिल्ली छोड़ जब से पटना आई है...मत पूछिए एक नहीं कई दीवाने बना लिए है . एक दीवाना है भाई जी के चैनल के पीछेवाला चौबीस खबर घंटा दिखने का दावा करने वाला नेशनल चैनल ... उसमे काम करने वाला कैमरामैन है मुनि जी . बेचारा चिपकू की तरह पीछे पीछे घूमता रहता है . पता नहीं... शादी के सपने देखता है या ...की ...हम नहीं बोलेंगे ... हम बोलेगे तो बोलेगा की बोलता है ... घर से लाना... और फिर घुमाना ... मौर्या टीवी पहुंचाना ... अरे रुकिए महराज ...घर पहुन्छाने का भी जिम्मा लिया है
पता है काहे ... पत्रकार पुत्र है ना
कलाई में लाल धागा ... ऊपर से फ्रेंड शिप बैंड... ऐ महराज ... लड़का है ना ... हिल तो जाएगा ना ... हिलेगा ... तो हिला देगा
और पटना के घंधी मैदान में बेचारे झाजी को अइसा हिलाया की दुसरे झाजीवा का तो ... ? सूरमा है ... कोई नहीं आप नहीं डरिये... चित्रगुप्त जी के परिवार से है ... हवा पानी टाईट है
और उस दिन ... ऐ महराज इ त गजबे कर दिया था ...



मैडम जी के लिए कईयों से बांस बल्ला लेकर लड़ा और गाली खाया ... सबको खिलाया .. . खैर जब से मैडम मौर्या में आई है ...इस दीवाने की तो बांछे खिल गई है . क्योंकि भाई जी के चैनल के बाजू में ही तो है इस दीवाने का दफ्तर . काम धंधा छोड़कर लगा रहता है मैडम जी की तीमारदारी में . दफ्तर से घर पहुचने जाता है .तो मंदिर के पास अंगूर... संतरा खिलाता है
एक दिन कुछ लोगो ने देख लिया एक ने कहा ...अंगूर खिलाने से नहीं चलेगा ..खिलाना है तो अनार खिलाओ ... हाईट के सात टाईट होगा प्यार ...खैर..दीवाना हर वक़्त उसके आगे पीछे मंडराता रहता है ..कई बार लोगो ने अँधेरे में दोनों को देखा है क्या होता है यह हम नहीं कहेंगे ... फिर वही बात ... बोलेंगे तो बोलेगा की बोलता है ... पर आपको बता दे की मैडम जी से पहले भी यह एक और मैडम जी के लिए फाइटिंग कर चुका है ... वू मैडम अब इसको भाव नहीं देती सो बेचारा मन से दुखी हो गया ... कई जगह नोक किया ... पर उफ़ ... मुनि जी को .... का बताये .... लेकिन दीवाना ऐसा की हर दर्द समझता है सो इ मैडम हाथ से ना निकल जाए सो ...गेम प्लान से लेकर ... डे प्लान... फिर तो स्टोरी पूरी करवाने तक ...पिछले दिनों उसका ब्यूरो रांची गया लेकिन वह नहीं गया ...एक बहाना बनाकर ... ना रे भाई सब डरता है हैं ना ...तिवारी जी साथ हैं तो का गम है ...और फिर तो... जमकर हुआ ऐश मौज .... नास्ता खा लो .... देखो ना वो मेरी स्टोरी रोक देता है ... उसको तो ... अच्छा रुको ना शीशे फोड़ देंगे .... यहाँ उ भी देखते है ... अरे किसी की गा ...में दम है ...यही नहीं दीवाना अब मौर्या में वैसे उन सभी को निशाने पर लेने लगा है जिससे मैडम जी को परेशानी है ...भाई जोड़ी हो तो ऐसी
कैसी लगी यह संतरा अनार का प्यार
लेकिन रहिये खबरदार ... गाली देगा ... जो घर से सिख कर आता है ... हेल्लो .... सुन लिए ना ... बाय




जय हो















1 टिप्पणी:

  1. this is not a new thing which is going on in the media houses. i all ways leasan that media is the pelaur of our nation it does lots of esting and mayni mor thing to show the prejent cenareo of our cuntry but in the media hoeses the are mor corepat and careacter leas as i have see
    can i OK

    उत्तर देंहटाएं